सुनील कुमार पिंटू होंगे सीतामढ़ी से जेडीयू के नए उम्मीदवार, भाजपा के पूर्व विधायक रहे हैं पिंटू

PATNA : जेडीयू ने सीतामढ़ी संसदीय क्षेत्र से अपना उम्मीदवार बदल दिया है। जेडीयू के घोषित उम्मीदवार डॉ वरुण कुमार ने चुनाव नहीं लड़ने का ऐलान किया और पटना जा कर अपना टिकट वापस कर दिया। उसके बाद भाजपा के पूर्व विधायक सुनील कुमार पिंटू को जेडीयू में शामिल कर उन्हें सीतामढ़ी से जेडीयू का नया उम्मीदवार घोषित किया गया। सुनील कुमार पिंटू 2015 से पहले के नीतीश सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं और  इस कारण नीतीश कुमार के साथ उनकी नजदीकियां भी थी। जिस कारण पिंटू को नया उम्मीदवार घोषित किया गया है। 

सुनील पिंटू पहले भाजपा में थे और सीतामढ़ी से भाजपा के पूर्व विधायक थे। लेकिन टिकट देने के लिए उन्हें जेडीयू में सम्मिलित किया गया ,एक तरह से देखे तो सीतामढ़ी सीट पर जेडीयू ने भाजपा के चेहरे पर भरोसा जताया है। गौरतलब है कि  सीतामढ़ी से जेडीयू ने  डॉ वरुण कुमार को अपना प्रत्याशी घोषित किया था लेकिन अब उन्होंने  चुनाव नहीं लड़ने का मन बना लिया है। उन्होंने पटना जा कर अपना टिकट प्रदेश नेतृत्व को वापस कर दिया। कहा जा रह है कि उन्हें जेडीयू कार्यकर्ताओं का सपोर्ट नहीं मिल रहा है जिसके कारण उन्हें भीतरघात की आशंका है और चुनाव हारने का डर है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

डॉ वरुण को टिकट मिलने के बाद जेडीयू कार्यकर्ताओं में आक्रोश था और आरोप लगाया गया था कि उन्होंने पैसे देकर टिकट खरीदा है क्योंकि ना तो वो जेडीयू के सदस्य है और ना ही उनकी कोई राजनितिक पृष्ठभूमि है। डॉ वरुण कुमार सर्जन है। लेकिन राजनीति से उनका दूर दूर तक नाता नहीं है। सीतामढ़ी सीट पिछली बार रालोसपा के पास थी और राम कुमार शर्मा सांसद थे तब रालोसपा एनडीए का हिस्सा थी और उन्होंने राजद उम्मीदवार सीताराम यादव को हराया था। जेडीयू उम्मीदवार अरुण राय तीसरे नंबर पर रहे थे।