सुपर-30 मूवी रिलीज, आनंद कुमार ने कहा-संघ’र्षशील बिहारियों में है कुछ कर गुजरने की क्षमता

PATNA:  सुपर-30 के प्रणेता आनंद कुमार ने कहा कि अभी बहुत जगहों पर बिहारियों को गंवार समझा जाता है लेकिन सुपर-30 मूवी से बिहारियों के प्रति लोगों के मन में सकारात्मक परिवर्तन दिखने को मिलेगा। अब लोग बिहारियों को सम्मान से देखेंगे और कहेंगे कि बिहारियों में दम है और वह बहुत कुछ कर सकता है। बिहारी कठिनाओं ने नहीं डरता है बल्कि विषम परिस्थिति में भी संघर्ष करते हुए सफलता की ऊंचाईयों को छू लेता है। किसी ने ठीक ही कहा है कि एक बिहारी सौ पर भारी होता है। आनंद कुमार का  यह व्यक्तव इस कहावत को चरित्रार्थ करता है।

SUPER-30

सामंती बिजनेसमेन से अच्छे शिक्षकों को हैं ख’तरा-

यह फिल्म सिर्फ मेरे संघर्षों की कहानी ही नहीं है ये अत्या’चार के खि’लाफ एक मुहिम भी है। सुपर-30 फिल्म में अभिनेता ऋतिक रोशन आनंद कुमार के अवतार में नजर आएंगे। यह फिल्म आज (12 जुलाई) सिनेमा घरों में रिलीज हुई है। उन्होंने यह भी कहा कि यह फिल्म सिर्फ आनंद कुमार की जिन्दगी पर आधारित कहानी को नहीं बताती है बल्कि बच्चों को पढ़ाने के लिए संघर्ष करने वाले सभी शिक्षकों की कहानी बया करती है। ये फिल्म वैसे सभी शिक्षकों की कहानी बया करती है, जिनके पास कुछ भी नहीं है लेकिन बच्चों के बेहतर कल के लिए दिन-रात मेहनत करके पढ़ाने में जुटे रहते हैं। यह मूवी बताती है कि किस तरह हाशिये पर बैठे शिक्षकों की विलक्षण प्रतिभा को सामंती बिजनेस-मेन समाप्त करने के लिए षड्यं’त्र रचता है।

इस फिल्म का निर्देशन नेशनल अवार्ड विजेता विकास बहल ने किया है। फिल्म में बिहार पंकज त्रिपाठी भी दिखाई देंगे। इसी के साथ ही कुमकुम भाग्य फेम मृणाल ठाकुर, नंदिश सिंह, अमित साध, सीआइडी के आदित्य श्रीवास्तव और राजधानी की किलकारी संस्था के 25 बच्चों ने भी अभिनय किया है। यह भी बताया जाता है कि मूवी में अभिनय करने वाले 30 छात्र बिहारी ही हैं।