मुजफ्फरपुर बालिका शेल्टर होम कां’ड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को सुप्रीम कोर्ट से जोरदार झ’टका

PATNA : मुजफ्फरपुर बालिका शेल्टर होम कांड में सुप्रीम कोर्ट के फैसले से एक नया मोड़ आ गया है । सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में शेल्टर होम कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को तगड़ा झटका दिया है । कोर्ट ने कहा है कि शेल्टर होम कांड के आरोपियों के पक्ष को नहीं सुनेगा । साथ ही साथ सुप्रीम कोर्ट ने CBI को आज सुनवाई करते हुुए निर्देश दिया है कि CBI इस कांड से जु़डी अपनी जांच रिपोर्ट 3 महीने के अंदर कोर्ट में पेश करे ।

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में CBI ने अपनी सील बंद जांच रिपोर्ट सौंपते हुए आगे की जांच के लिए 6 महीने की मांग की थी ।  सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई के इस मांग को खारिज करते हुए उसे आगे की जांच के लिए सिर्फ 3 महीने का समय दिया है ।

इस मामले में नियुक्त सरकारी न्याय मित्र ने कोर्ट से कहा है कि शेल्टर होम में हुए बच्चियों की मौत की जांच CBI तेजी से नहीं कर रही है । इसके कारण शेल्टर होम की अन्य बच्चियों के जीवन पर भी खतरा मडरा रहा है । ऐसे में CBI को इन बच्चियों की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।सुप्रीम कोर्ट ने न्याय मित्र से पूछा कि बलात्कार के कुल कितने गंभीर मामले हैं। इस पर न्याय मित्र ने कहा कि बलात्कार के कुल 21 मामले सामने आए हैं जिसमें से कुछ मामले काफी गंभीर किस्म के हैं ।

न्याय मित्र ने कोर्ट को यह भी बताया कि जो लोग शेल्टर होम में आते-जाते थे उनकी भी जांच अभी नहीं हो पाई है ।कोर्ट ने आदेश दिया है कि जल्द से जल्द इन लोगों की पहचान कर इनके नाम कोर्ट में पेश की जाए । कोर्ट ने CBI से कहां है कि जिन बच्चियों के कंकाल शेल्टर होम से बरामद हुए है उनकी पहचान जल्द से जल्द  की जाए ।