सुशील कुमार मोदी बोले- RJD के नेता जिन्हें बंधुआ समझते थे, उसी समाज ने NDA का दिया साथ

Patna: बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बिहार के उप मुख्यमंत्री Sushil Kumar Modi  ने RJD  पर जोरदार निशाना साधा है।

Sushil Kumar Modi  ने कहा कि जनादेश 2019 का संदेश देता है कि लोकतंत्र में न कोई समुदाय किसी का बंधुआ वोटर हैं, न ही अब इस थ्योरी से जनता को गुमराह किया जा सकता है। Lalu Prasad Yadav  और उनकी पार्टी के नेता जिस समाज को अपना बंधुआ समझते थे, उस समाज के पांच उम्मीदवार एनडीए के टिकट पर जीते हैं।

Sushil Kumar Modi  ने कहा कि एनडीए के उम्मीदवार तो जीते हैं लेकिन राजद का कोई प्रत्याशी लोकसभा चुनाव में नहीं जीत पाई। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि लालू प्रसाद की पुत्री मीसा भारती और समधी चंद्रिका राय को भी पराजय का सामना करना पड़ा।

Live India

उप मुख्यमंत्री Sushil Kumar Modi रहा कि राजद के उलट एनडीए के यदुवंशी समाज के नित्यानंद राय, अशोक यादव, रामकृपाल यादव, दिनेश चंद्र यादव और गिरधारी यादव एनडीए के टिकट पर विजयी रहे। पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश में मुलायम सिंह यादव के परिवार की बहू डिम्पल यादव और उनके दूसरे रिश्तेदारों की हार साबित करती हैं कि कोई कोई समुदाय किसी का बंधुआ नहीं है।

चुनाव की सफलता का श्रेय PM मोदी के नाम और काम को – नित्यानंद राय

Sushil Kumara Modi  ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने पांच साल तक गरीबी और आ’तंकवाद से ल’ड़ने की जो बड़ी लकीरे खींची है। उसके सामने जात पात की राजनीति बेमानी हो गई है। लोकतंत्र जनता के ऐसे फैसलों से बचा है, किसी की पदयात्रा करने की नौटंकी से नहीं।