कश्मीर पर बयान देकर चिदंबरम मुस्लिम समुदाय को उकसाने की कोशिश कर रहे हैं- सुशील मोदी

PATNA: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर पी चिदंबरम के बयान से राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज हो गई है। चिदंबरम के बयान की काफी आलोचना की जा रही है। वहीँ बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने चिदंबरम पर उनके बयान को लेकर जोरदार हमला बोला है।

सोशल मीडिया के माध्यम से सुशील मोदी ने चिदंबरम पर निशाना साधते हुए लिखा है कि जम्मू-कश्मीर को धारा-370 की जंजीरों से आजाद कर केंद्रशासित प्रदेश बनाने का ऐतिहासिक फैसला आतंकवाद को जड़ से उखाड़ने और स्थानीय लोगों को तेज विकास की मुख्यधारा में शामिल करने के लिए जरूरी था।दुर्भाग्य से पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम और दिग्विजय सिंह इस फैसले की आड़ में मुस्लिम समुदाय को मुद्दे (जम्मू कश्मीर) पर सरकार के खिलाफ भड़काने की कोशिश कर रहे हैं।

इसी के साथ ही सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में दिग्विजय सिंह के साथ अन्य कोंग्रेसी नेताओं पर भी निशाना साधा है। उन्होंने लिखा है कि कांग्रेस के कुछ नेता पार्टी को स्वतंत्र भारत की ‘मुस्लिम लीग’ बनाने पर तुले हुए हैं।

वहीँ चिदंबरम के बयान पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उनपर निशाना साधा है। गिरिराज सिंह ने कहा कि कांग्रेस पूरे देश में सिर्फ उंगलियों पर सिमट कर रह गई है। गिरिराज सिंह ने कहा कि चिदंबरम और गुलाम नबी आजाद जैसे नेताओं के चेहरे बे’नकाब हो गए है। पी. चिदंबरम हमेशा तु’ष्टिकरण की भाषा बोलते हैं। गिरिराज सिंह ने कहा कि कश्मीर में अनुच्छेद 370 के हटाए जाने से पूरे देश में खुशी है। उन्होंने कहा कि यह फैसला देशहित के लिए है। यह फैसला कश्मीर में रह रहे समाज के निचले तबके, पाकिस्तान से आए शरणार्थियों जिन्हें अब तक न्याय नहीं मिल रहा था, उनके लिए ऐतिहासिक बदलाव के समान है।