बेनामी सम्पत्ति मामले में क्लीनचिट नहीं पा सके तेजस्वी से RJD इस्तीफ़ा नहीं मांग रही-सुशील मोदी

PATNA: बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बेनामी सम्पत्ति मामले में आरजेडी की कमान संभालने वाले और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव पर जोरदार हमला बोला है। सुशील मोदी ने ट्वीट के माध्यम से लालू यादव पर भी निशाना साधा है।

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि चारा घोटाले की जांच और लंबी न्यायिक प्रक्रिया के बाद जब लालू प्रसाद चार मामलों में सजायाफ्ता हुए, तब से राजद की ओर से गुनाह कुबूल करने के बजाय बार-बार यही कहा जाता है कि लालू प्रसाद को फंसाया गया।

इसी के साथ ही सुशील मोदी ने आगे लिखा है कि जब तेजस्वी यादव 29 साल की उम्र में 54 बेनामी सम्पत्ति के मालिक बनने का बिंदुवार जवाब देकर जांच एजेंसियों से क्लीनचिट नहीं पा सके, तब भी पार्टी उनसे इस्तीफा लेने के बजाय फंसाये जाने की रट लगाती रही।

अरुण यादव को लेकर लिखा है कि ये वही अरुण यादव हैं जिन्होंने लालू परिवार के काले धन को सफ़ेद करने के लिए जून 2017 को लालू यादव की माँ के नाम पर बने मरछिया देवी कमर्शियल कॉम्प्लैक्स को 2 करोड़, 56 लाख 76 हजार रुपयों का राबड़ी देवी को भुगतान कर खरीद लिया था।

इसी के साथ ही सुशील मोदी ने कहा कि अब राष्ट्रीय जनता दल बलात्कारियों और अपराधियों को पनाह देने वाली पार्टी बनकर रह गई है। अपराधियों को संरक्षण देने वाली पार्टी आरजेडी न केवल राज्बल्लभ यादव और मोहम्मद शहाबुद्दीन की पत्नी को टिकट देकर चुनाव लड़वाती है। लोकतंत्र पर सवाल खड़े करने वाली आरजेडी ने शहाबुद्दीन को पार्टी से निकालना तो दूर उन्हें पार्टी की कोर कमिटी में भी शामिल कर रखा है।