रेल दुर्घटना : पटरी टूटी होने के कारण बेपटरी हुई ताप्ती-गंगा एक्सप्रेस, रेलखंड पर आवागमन ठप

PATNA : आज सुबह सूरत से चलकर छपरा जाने वाली ताप्ती -गंगा एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई जिसमे करीब 14 बोगियां पटरी से उतर गई और 15 यात्री घायल हो गए। बताया जा रहा है कि पटरी दुर्घटनास्थल पर पटरी टूटी हुई थी जिसे देखकर ड्राईवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाया तो बोगियां अनियंत्रित हो कर पटरी से उतर गयीं। घटना के बाद पुरे रेलखंड पर यातायात ठप्प है। घायलों को छपरा के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। रेलवे प्रशासन राहत और बचाव कार्य में जुटा हुआ है।  रेलवे अधिकारी घटनास्थल पर कैम्प कर रहे हैं। 

ट्रेन छपरा से सूरत जा रही थी। गौतम स्थान रेलवे स्टेशन के लाइन नंबर दो से गुजर रही थी तभी एक के बाद एक 13 बोगियां पटरी से उतर गयीं। जिस वक़्त हादसा हुआ उस वक़्त ट्रेन की गति धीमी थी इसलिए बड़ी दुर्घटना नहीं हुई लेकिन फिर इस हादसे ने एक बार फिर रेलवे को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है। पटरियों की जाँच के लिए लगातार पेट्रोलिंग होती रहती है। लेकिन फिर भी किसी की नज़र टूटी पटरी पर क्यों नहीं पड़ी इसको लेकर रेलवे सवालों के घेरे में हैं। अगर ट्रेन की गति तेज होती तो बड़ी दुर्घटना भी हो सकती थी।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। वाराणसी-0542-2224742-0542-2226768, बलिया-9794843932, मऊ-9794843921,
छपरा-06152-237807 . यात्रियों को बसों के जरिए छपरा पहुंचा जा रहा है। यात्रियों की मदद के लिए छपरा से दुर्घटना राहत ट्रेन भी घटनास्थल पर पहुंची है। दुर्घटना के कारण रेलखंड पर परिचालन पूरी तरह ठप है। कुछ दिनों पहले भी हाजीपुर के निकट सीमांचल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी जिसमे 5 लोगों की जान चली गई थी।  बीते दो महीनों में ये दूसरा बड़ा रेल हादसा है। उस वक़्त भी रेलवे की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में थी। लेकिन आज फिर हुई दुर्घटना से लगता है कि रेलवे प्रशासन ने कोई सबक नहीं सीखा है।