सांसद और मंत्री की ह’त्‍या के आ’रोपी नक्स’ली को झारखंड में चुनाव ल’ड़ने की इजाजत मिली

RANCHI : एनआ’इए की विशेष अदालत में कोर्ट ने न’क्सली कुंदन पाहन को चुनाव ल’ड़ने की अनुमति दे दी है। कोर्ट ने नॉमिनेशन के लिए 15 नवंबर की तिथि तय की है। कुंदन पाहन ने तमाड़ से विधानसभा चुनाव ल’डऩे के लिए एनआइए कोर्ट में आवेदन दिया था।

सुनवाई करते हुए विशेष न्यायाधीश नवनीत कुमार की अदालत ने चुनाव ल’डऩे की इजाजत दे दी। सरेंडर करने के बाद से हजारीबाग के ओपन जे’ल में बंद कुंदन पाहन तमाड़ से विधानसभा चुनाव ल’डऩे की तैयारी कर रहा है। कुंदन पर ह’त्या, ड’कैती सहित करीब सवा सौ मुक’दमे चल रहे हैं।

आपको बता दें कि तमाड़ के पूर्व विधायक रमेश सिंह मुंडा ह’त्याकां’ड का मुख्य आ’रोपित ये नक्सली कुंदन पाहन है। कु’ख्यात कुंदन पाहन ने 14 मई 2017 को पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया था। आत्मसम’र्पण के वक्त वह न’क्स’ली संगठन भाकपा मा’ओवा’दियों के झारखंड रीजनल कमेटी का सचिव था और 15 लाख का इनामी था।

आ’त्मसम’र्पण के समय उसपर रखे गए 15 लाख रुपये के इनाम का चेक उसे दे दिया गया था। वह 2000 में भा’कपा मा’ओवा’दी संगठन का सदस्य बना था। इसके बाद उसने ताबड़तोड़ घटनाओं को अंजाम दिया। सांसद सुनील महतो, पूर्व मंत्री और विधायक रमेश सिंह मुंडा, बुंडू डीएसपी प्रमोद कुमार सहित छह पुलिसकर्मी और स्पेशल ब्रांच के इंस्पेक्टर फ्रांसिस इंदवार की हत्या का आरोप कुंदन पर है।