TMBU ने बनाया अनोखा रिकॉर्ड, परीक्षा ख़त्म होने के बाद अगले दिन घोषित किया रिजल्ट

PATNA : परीक्षा संपन्न होने के बाद परीक्षार्थियों को उनके परिणाम का बहुत दिनों तक इंतज़ार करना पड़ता है। कहीं कहीं तो परिणाम घोषित करने के लिए परीक्षार्थियों को मैदान में भी उतरना पड़ता है। लेकिन तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय (TMBU) ने परीक्षा परिणाम को लेकर एक नया रेकॉर्ड ही बना दिया है। इस रिकॉर्ड पर एक बार तो आप भी भरोसा नहीं कर पाएंगे।

तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय ने एक अनोखा रिकॉर्ड बनाया है। विश्वविद्यालय ने इस बार 18 मार्च तक संपन्न कराई बीएड की सत्र 2017-2019 की परीक्षा का परिमाण अगले ही दिन यानी 19 मार्च को घोषित कर एक रिकॉर्ड बना दिया। इसके पीछे का कारन बताया जा रहा है कि विश्वविद्यालयों द्वारा सत्र को नियमित करने के लिए कुलाधिपति द्वारा निर्देश दिए गए थे। परीक्षा परिणाम इतनी जल्दी घोषित होने पर राज्यपाल सचिवालय ने कुलपति की प्रशंसा की है। परीक्षा परिणाम को लेकर सूचना और जनसंपर्क विभाग ने भी इस संबंध में प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की है।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

विश्वविद्यालय की बीएड की परीक्षा इस बार 5 मार्च से प्रारंभ हुई थी। 13 मार्च तक सैद्धांतिक परीक्षा और 16 से 18 मार्च तक प्रायोगिक परीक्षाएं संपन्न हुईं। इतना ही नहीं विश्वविद्यालय ने 18 मार्च की शाम तक 12 कॉलेजों के परीक्षा परिणाम भी तैयार कर लिए थे। चार कॉलेजों के प्रायोगिक परीक्षाओं के अंक 19 मार्च की सुबह कॉलेजों ने दिए। उसके कुछ घंटे बाद टीएमबीयू ने परीक्षा परिणाम अपनी ऑफिसियल वेबसाइट पर जारी कर दिया। इस परीक्षा में करीब 19 सौ परीक्षार्थी शामिल हुए थे।

इतनी जल्दी परीक्षा परिणाम घोषित करना टीएमबीयू के इतिहास में पहली बार हुआ है। परीक्षा परिणाम को लेकर प्रभारी कुलपति प्रो. एलसी साहा ने बताया कि परीक्षा का आयोजन और पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के लिए अतिरिक्त परीक्षक लगाये गए थे। उसी का परिणाम रहा कि परीक्षा के अगले ही दिन उसका रिजल्ट आ गया। परीक्षा नियंत्रक अरुण सिंह और टेबुलेशन निदेशक डा. पवन कुमार सिन्हा रिजल्ट निकालने में शुरू से लगे रहे।