भूदान जमीन विवाद को लेकर गांव वालों की 200 राउंड फा’यरिंग, मुठभेड़ में एक जवान घा’यल

PATNA: भूदान (BHOODAN) की जमीन को लेकर बिहार में नई घटना सामने आई है। बिहार के मुंगेर में दो गांवों के लोगों के बीच जमीन पर कब्ज़ा करने को लेकर जमकर लड़ाई हुई। इस दौरान दोनों गुटों की ओर से जमकर फायरिंग की गई। फायरिंग से पूरा क्षेत्र दहल उठा। इस दौरान अपराधियों की पुलिस से भी मुठभेड़ हो गई।

जमीन विवाद के बाद रविवार को भी दोनों गांवों में माहौल शांत नहीं है। तनाव की स्थिति को देखते हुए पुलिस भी सतर्क है। ये घटना मुंगेर, असरगंज थाना क्षेत्र में चोरगांव और गंगनिया के गांव के बीच भूदान की जमीन पर कब्जे को लेकर हुई। दोनों पक्ष ने शनिवार की सुबह से शाम तक करीब 200 राउंड से अधिक फायरिंग की। फायरिंग से पूरा इलाका दिनभर दहलता रहा। इस दौरान जब पुलिस मौके पर पहुंची तो दबंग अपराधी पुलिस के सामने भी नहीं रुके और पुलिस की मौजूदगी में भी लगातार फायरिंग कर रहे थे।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

अपराधियों की गोलीबारी में पुलिस का एक जवान भी घायल हो गया। पुलिस ने बताया कि गाँव वालों ने अपराधियों को बचाने के लिए पुलिस पर ही पथराव कर दिया। इस दौरान पुलिस ने घटना स्थल पर बड़ी संख्‍या में पुलिस बल तैनात कर दिया। डीआइजी मनु महाराज और एसपी गौरव मंगला के नेतृत्व में पुलिस ने छापेमारी कर करीब दो दर्जन ग्रामीणों को हिरासत में ले लिया। डीआइजी ने बताया कि पुलिस ने मौके से दो राइफल के साथ 2 देसी कट्टा और कई खोखा बरामद किया है।

बता दें कि भूदान आंदोलन संत विनोबा भावे द्वारा सन् 1951 में आरंभ किया गया स्वैच्छिक भूमि सुधार आंदोलन था। भूदान की जमीन को लेकर विवाद कोई नया नहीं है। विनाबा के भूदान आंदोलन की भूमि का विवाद आज भी चल रहा है। मुंगेर में हुई घटना इसका ताजा उदाहरण है।