रेलवे का गजब कारनामा आया सामने, बिहार के रास्‍ते नेपाल जा रही ट्रेन के 2 डिब्बे गायब

PATNA : भारतीय रेल विश्व में अपनी एक विशेष पहचान रखती है। विश्व के बड़े-बड़े नेटवर्क में भारतीय रेलवे का नाम शामिल किया जाता है। जब से केंद्र में मोदी सरकार आई है रेलवे व्यवस्था को लेकर कुछ ज्यादा ही फोकस किया जा रहा है। लेकिन इसी व्यवस्था के बीच एक ऐसी खबर सामने आई है जिसके बारे में जानकर आप भी हैरान रह जाओगे।

दरअसल, विशाखापतनम से चलकर बिहार के रास्ते नेपाल को जा रही मालगाड़ी (गुड्स ट्रेन) में से दो डिब्बे गायब होने की खबर आई है। इस बात पर पहली बार में आप भी विश्वास नहीं कर सकते लेकिन यह सच है। ट्रैन से रास्ते में ही दो डिब्बे गायब हो गए हैं। अब इस घटना को लेकर रेलवे आगे क्या निर्णय लेता है यह देखना बाकी है। मिली जानकारी के मुताबिक गायब हुए इन दो डिब्बों में किसी व्यापारी का यूरिया (खाद) लदा हुआ था। जब यह जानकारी उस व्यापारी को मिली तो वह हैरान रह गया। वह काफी परेशान हैं और पिछले छह माह से रेलवे के एक ऑफिस से दूसरे ऑफिस के चक्कर लगा रहा है।

Quaint Media

विशाखापत्तनम से नेपाल के सिरिसिया स्थित ड्राइपोर्ट के लिए चली यूरिया लदी मालगाड़ी की 42 में से दो वैगन रास्ते में ही गायब हो गए। पीडि़त व्यापारी इसकी शिकायत रेलवे के सीनियर अधिकारियों से करते करते परेशान हो गया है। व्यापारी ने बताया कि उसने एग्रीकल्चर इनपुट कंपनी लिमिटेड, नेपाल ने भारत से यूरिया आयात किया था। इस आयातित खाद को पहुंचाने की जिम्मेदारी किसान ट्रेडर्स, मोतिहारी के पास थी।

बताया जा रहा है कि गायब हुए एक वैगन में 1170 और दूसरे में 1230 यानी कुल 2400 बोरा खाद था। इसकी कीमत करीब 24 लाख रुपए  है।  42 वैगन के कागजात पीड़ित व्यापारी ने दिए थे। लेकिन, 40 वैगन ही थे। इस संबंध में जांच और आवश्यक कागजी कार्रवाई के बाद मालगाड़ी के वैगन को नेपाल जाने की अनुमति दी गई।