उपेंद्र कुशवाहा ने BJP को का भारतीय जुमला पार्टी, नीतीश सरकार को उखाड़ फेकने का लिया संकल्प

PATNA : बिहार में एनडीए धीरे-धीरे टूटने के कगार पर पहुंच रही है। ताजा अपडेट के अनसार रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने सीधे तौर पर आज भाजपा पर हमला बोला। केंद्रीय मंत्री ने एक कार्यक्रम के दौरान भारतीय जुमला पार्टी बतलाया। उपेंद्र कुशवाहा ने नीतीश सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकालते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भले ही 15 साल के लालू – राबड़ी शासनकाल को कोस कर सत्ता की गद्दी पर बैठे हो लेकिन हकीकत यह है कि बिहार में मौजूदा हालात आरजेडी शासनकाल से ज्यादा बदतर हैं। कुशवाहा ने कहा कि बिहार में सुशासन नाम की कोई चीज नहीं है और नीतीश कुमार केवल सत्ता सुख भोगने में व्यस्त हैं।

चिंतन शिविर में बोलते हुए उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी के ऊपर भी सीधा हमला बोला। कुशवाहा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी हकीकत में भारतीय जुमला पार्टी है और बिहार बीजेपी के अंदर बैठे नेता नीतीश कुमार के चमचेबाजी में व्यस्त हैं। कुशवाहा ने कहा कि जुमलेबाजी से जनता का भला नहीं हो सकता है और बीजेपी को मंदिर निर्माण जैसे मुद्दे नहीं उठाने चाहिए। कुशवाहा ने कहा कि मंदिर बनाने का काम साधु संतों का है ना कि राजनीतिक दलों का। कुशवाहा ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि अगर मंदिर निर्माण करना ही था तो बीजेपी ने पिछले 4 साल में यह काम क्यों नहीं किया? कुशवाहा ने उम्मीद के मुताबिक अपनी पार्टी की बैठक में एनडीए को जमकर खरी-खोटी सुनाई है। चिंतन शिविर में एनडीए और मोदी सरकार के खिलाफ खुलेआम बागी तेवर दिखाने के बाद कुशवाहा केंद्रीय कैबिनेट में कितने दिनों तक रह पाएंगे या देखना अब बड़ा दिलचस्प होगा।

PATNA

उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी के केंद्रीय मंत्री और नेताओं पर आरोप लगाया है कि वह मंदिर-मस्जिद के मुद्दे पर चुनाव लड़ना चाहते हैं। जब-जब चुनाव आता है वह मंदिर के मुद्दे को भुनाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर-मस्जिद के मामले में किसी भी राजनीतिक दल को नहीं शामिल होने चाहिए। इसलिए वह बीजेपी के इस नीति का पूरी तरह से विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि वह सरकार को शिक्षा के ऊपर काम करना चाहिए। वहीं, बीजेपी के द्वारा मुलाकात न देने को लेकर कहा कि अब किसी से भी आग्रह करने का समय खत्म हो चुका है। अब अपनी पार्टी की नीतियों के अनुसार काम करना है। इसके लिए उन्हें जो कुछ भी करना होगा वह करेंगे।

शिक्षा के नीति पर नीतीश कुमार से उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उन्होंने प्रदेश में शिक्षा को ध्वस्त कर दिया है। बिहार में ऐसे शिक्षकों की बहाली की गई है, जिसे अपना पत्राचार पता भी नहीं मालूम है। ऐसे में बिहार का विकास संभव नहीं हैं। अगर बिहार का विकास नहीं होगा तो देश का विकास भी संभव नहीं है। इसलिए आरएलएसपी अपने कामों के लिए कृत संकल्प हैं। और उसी के अनुसार आगे कार्य करेगी। आपको बता दें कि बिहार में एनडीए और महागठबंधन के नेताओं को लगा था कि उपेंद्र कुशवाहा किसी तरह का फैसला लें सकते हैं। लेकिन वह अपने पूरे संबोधन में नीतीश कुमार के ईर्द गिर्द ही घुमते दिखे। उन्होंने केवल नीतीश कुमार के खिलाफ आरोपों का पुल बांध दिया। लेकिन जनता और नेता यहां जानने के लिए आए थे। उन्हें इस बारे में नहीं बताया गया।

The post उपेंद्र कुशवाहा ने BJP को का भारतीय जुमला पार्टी, नीतीश सरकार को उखाड़ फेकने का लिया संकल्प appeared first on Mai Bihari.