उपेन्द्र कुशवाहा ने मोदी-नितीश को दी चेता’वनी, कहा जनता आक्रो’शित है, सड़क पर बह सकता है खू’न

बूथ लूटने वाले अब रिजल्ट लूट’ने की तैयारी कर रहे हैं।
23 मई के नतीजों से पहले EVM पर उठते सवालों की हुई चर्चा।
उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा एग्जिट पोल के जरिये फैलाया जा रहा है भ्रम।

महागठबंधन की प्रेस कॉन्फ्रेंस में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने एग्जिट पोल को सिरे से खारिज करते हुए, कहा कि एनडीए में पहले बूथ की लूट और अब रिजल्ट की लूट की तैयारी चल रही है। अगर रिजल्ट की लूट हुई, तो महागठबंधन के नेता हथियार भी उठा सकते हैं। एग्जिट पोल पर कुशवाहा  ने कहा कि यह पूरी तरह गलत है, इसके जरिये जनता में भ्रम फैलाया जा रहा है।

उन्होंने चेता’वनी देते हुए कहा कि जनता का आक्रो’श बहुत खतर’नाक है। इसके कारण सड़क पर खू’न तक बह सकता है, जिसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार सीधे-सीधे जिम्मेवार होंगे। कुशवाहा ने जिला प्रशासन स’तर्क रहने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि  हम लोगों से अपील करते है कि वे धैर्य और संयम से काम ले। आजकल की जनता मूर्ख नहीं है। जनता समझ चुकी है कि सत्ता में आने के लिए षड्यं’त्र रचा जा रहा है।

गौरतलब है कि आज पटना में महागठबंधन की प्रेसवार्ता हुई, जिसमें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, आलोक मेहता, VIP के सन् ऑफ मल्लाह मुकेश सहनी, राष्ट्रीय जनता दल के रामचन्द्र पूर्वे, रालोसपा के उपेन्द्र कुशवाहा शामिल हुए थे। बिहार के पूर्व सीएम और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के चीफ जीतनराम मांझी नहीं आए। हालांकि उनकी पार्टी के नेता और प्रवक्ता मौजूद थे।

इस प्रेस-कॉन्फ्रेंस से पहले महागठबंधन के राष्ट्रीय जनता दल ने भी ट्वीट करके EVM मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी को घेरा।

इस प्रेस-कॉन्फेंस पर चिराग पासवान की प्रतिक्रिया-

उपेंद्र कुशवाहा के बयान के बारे में चिराग  ने कहा कि इस तरह की बयानबाजी नहीं होनी चाहिए। ये हता’शा है विपक्षी पार्टियों की, हम इसकी घोर निं’दा करते हैं। आज NDA की महत्वपूर्ण बैठक भी है, जिसमें चुनाव के बाद के समीकरण की समीक्षा करेंगे।