वशिष्ठ बाबू को भारत रत्न देने की उठी मांग, गांववालों ने कहा ऐसी महान शख्सियत को मिले भारत रत्न

PATNA: भारत और बिहार का नाम विश्व में रोशन करने वाले बिहार के महान गणितज्ञ डॉ. वशिष्ठ नारायण सिंह का गुरूवार सुबह निधन हो गया। वशिष्ठ नारायण सिंह का उनके पैतृक गांव में आज अंतिम संस्कार किया जाएगा। सदी के महान गणितज्ञ को अब भारत रत्न देने की मांग की जा रही है।

जब गुरूवार की शाम को वशिष्ठ नारायण सिंह का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव पहुंचा तो उनके अंतिम दर्शन करने के लिए लोगों की भीड़ लग गई। वहां देखते ही देखते लोगों का हुजूम लग गया। इस दौरान गांववालों ने वशिष्ठ नारायण सिंह को भारत रत्न देने की मांग उठा दी। वशिष्ठ बाबू के घरवालों और गाँवालों ने मांग की है कि इतने महान शख्स को भारत रत्न दिया जाएगा।

शुक्रवार को पैतृक गांव भोजपुर के बसंतपुर में राजकीय सम्मान के साथ वशिष्ठ बाबू का अंतिम संस्कार किया जाएगा। पटना के कुल्हड़िया कॉम्प्लेक्स स्थित वशिष्ठ बाबू के भाई के घर से उनके पार्थिव शरीर को लेकर परिजन गुरुवार की शाम 6 बजे गांव पहुंच गए थे। इस दौरान भारी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी और उन्हें श्रद्धांजलि दी।

गणितज्ञ वशिष्ठ बाबू को नीतीश सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर मंत्री जयकुमार सिंह के साथ कई अन्य लोगों ने श्रद्धांजलि दी। वशिष्ठ बाबू को अपना आदर्श मानने वाले लोगों के बीच उनके निधन से शो’क की लहर है।

बिहार के भोजपुर से नासा तक: महान गणितज्ञ वशिष्ठ बाबू के लिए पटना विश्वविद्यालय ने बदला था नियम