होली पर घर जाना हो सकता है मुश्किल, बिहार आने वाली ट्रेनों में लम्बी वेटिंग लिस्ट

PATNA : होली में अभी एक महीना बाकी है लेकिन बिहार आने वाली लम्बी दूरी की ट्रेनों में कन्फर्म सीट उपलब्ध नहीं है। बड़ी संख्या में बिहारवासी दिल्ली, मुंबई, सूरत, अहमदाबाद, चंडीगढ़ और बैंगलोर में रहते हैं। त्यौहार के अवसर पर सब की इच्छा होती है अपने परिवार के पास पहुँचने की लेकिन कई कोशिशों के बाद भी रेलवे त्योहारों के अवसर पर टिकट उपलब्ध नहीं करा पता जिसकी वजह से लोगों को अपने घर परिवार से दूर त्यौहार मनाने को मजबूर होना पड़ता है। सिर्फ बिहार आने वाली ट्रेनों में ही नहीं बल्कि त्यौहार के बाद बिहार से बाहर जाने वाली ट्रेनों का भी बुरा हाल है। अगर किसी तरह घर पहुँच भी गए तो वापस काम पर लौटने के लिए टिकट नहीं मिल पायेगा। 

होली 20 मार्च को है। 14 मार्च से 20 मार्च तक पटना आने वाली एक्सप्रेस ट्रेनों के स्लीपर और एसी बोगियों में कोई भी कन्फर्म सीट उपलब्ध नहीं है। स्लीपर में वेटिंग 150 से 200 तक है। अभी तक पूर्व मध्य रेलवे ने त्यौहार को लेकर होली स्पेशल ट्रेनों की घोषणा नहीं की है, जिस करना लोगों में संशय की स्थिति है। दिल्ली से चलकर पटना आने वाली सम्पूर्ण क्रांति, मगध, विक्रमशीला, पूर्वा, नार्थ-ईस्ट एस्प्रेस में 14 से 20 मार्च तक सीट उपलब्ध नहीं है जबकि पटना से जाने वाली ट्रेनों में 20 मार्च के बाद कोई सीट उपलब्ध नहीं है। स्लीपर बोगियों में 150 से 200 वेटिंग है जबकि एसी बोगियों में 50 तक वेटिंग पहुँच चुकी है।

quaint media

पूर्व मध्य रेलवे के अधिकारियों के अनुसार भीड़ को देखते हुए होली स्पेशल ट्रेन चलाने की योजना बनाई जा रही है। 10 दिनों के भीतर टाइम टेबल की घोषणा की जायेगी। कुछ ऐसी ही स्थिति मुजफ्फरपुर और मोतिहारी रूट पर भी है। सभी लम्बी दूरी की ट्रेनों में लम्बी वेटिंग लिस्ट चल रही है। सप्तक्रांति, वैशाली, स्वतंत्रता सेनानी, संपर्क क्रांति जैसे ट्रेनों में 20 मार्च तक कोई सीट उपलब्ध नहीं है जबकि दिल्ली आने के लिए 20 मार्च के बाद लम्बी वेटिंग लिस्ट है।