बोले अश्विनी कुमार चौबे टीबी, खसरा और कालाजार मुक्त बनेगा भारत 2020 तक

PATNA : पूरी दुनिया में ट्यूबरकुलोसिस यानी टीबी के मामले की रिपोर्ट डब्‍ल्‍यूएचओ ने इकट्ठा की, पूरी दुनिया में टीबी के सबसे अधिक मामले भारत में दिखे। हर साल ये बीमारी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। लेकिन अब मानना की इस बीमारी से जल्द से जल्द निजात पा लिया जाएगा। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा की 2020 तक कालाजार, टीबी व खसरा मुक्त हो जाएगा। इसपर ज्यादा से ज्यादा कोशिश की जा रही है।

भारत सरकार ने दस साल के भीतर टीबी और कुष्ठ रोग को खत्म करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। लाखों की संख्या में लोग इससे पीड़ित है। बिहार के कालाजार प्रभावित जिलों के 89 फीसद प्रखंडों को कालाजार मुक्त कराया जा चूका है। डब्‍ल्‍यूएचओ की रिपोर्ट बताती है कि पिछले साल तकरीबन 15 लाख लोगों की इस 140,000 बच्चे शामिल थे। डाॅ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती के अवसर पर नर्सेज हॉस्टल के उद‌्घाटन समारोह में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा ये बात। इस मौके पर मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने 50 बेड वाले र्निसंग हॉस्टल का उद्घाटन किया।

अब टीबी के प्रति जागरुक होने की अधिक जरूरत है, जिससे समय रहते इस बीमारी का उपचार आसानी से हो जाये। बिहार व झारखंड में हर कालाजार मरीज को अतिरिक्त 6600 रुपए मिलते हैं। केंद्र सरकार ने अपने बजट में स्वास्थ्य सेवाओं पर होने वाले खर्च में 23 प्रतिशत की वृद्धि का ऐलान किया है। केन्द्रीय मंत्री ने आयुष्मान भारत योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि दस करोड़ परिवार के 60 करोड़ सदस्यों को इस योजना का लाभ मिलेगा।

tuberculosis

गरीब ग्रामीण इलाकों में खास तौर से ध्यान दिया जाएगा जहां लोगों के पास स्वास्थ्य सेवाएं ज्यादा नहीं पहुंची हैं और वहां इन बीमारियों का खतरा बहुत ज्यादा है। केन्द्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा कि केन्द्र सरकार भारत को स्वच्छ, सुंदर, श्रेष्ठ, समग्र बनाने की दिशा में मिशन के तहत काम कर रही है।यह पहला मौका नहीं है जब सरकार ने इन बीमारियों से लड़ने और बड़े पैमाने पर जागरूकता फैलाने की बात कही है।

The post बोले अश्विनी कुमार चौबे टीबी, खसरा और कालाजार मुक्त बनेगा भारत 2020 तक appeared first on Mai Bihari.