बॉलीवुड एक्टर यशपाल शर्मा ने लालू प्रसाद यादव के बारे में कही ये आप’त्तिजनक बातें

PATNA: बॉलीवुड एक्टर यशपाल शर्मा ने कहा कि जब मैं पहली बार बिहार आया था तो उस वक्त लालू यादव के घर रास्ते में गुं’डा-ग’र्दी बहुत होती थी। इसपर लालू यादव ने खुद अपनी भाषण में कहा था कि संजय मरा आकाश में, इंदिरा मरी आवास में, राजीव मरा मद्रास में, इ ससुरा ललुआ मरेगा बाईपास में। आपको बता दें कि 17 जुलाई को यशपाल शर्मा Family of Thakurganj फिल्म के प्रोमोशन के लिए पटना आये थे। इसी दौरान उन्होंने यह बातें कही। हाल ही में जिमी शेरगिल, माही गिल और सौरभ शुक्ला की अभिनय वाली फिल्म फैमिली ऑफ ठाकुरगंज का ट्रेलर रिलीज हुई है।

एक्टर यशपाल शर्मा
यशपाल शर्मा ने खुद को बताया बिहारी

उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बिहारवासी मुझे भी बिहारी ही समझे क्योंकि मैं दिल से बिहारी हूं। वे हरियाणा के रहने वाले हैं और गंगाजल, अपहरण जैसी कई फिल्मों में बिहारी का रोल किये हैं। सुपर-30 फिल्म के प्रोमोशन के लिए पटना पहुंचे ऋतिक रोशन ने कहा था कि मुझे लगता है कि मैं भी पिछले जन्म में बिहारी था। सुपर-30 मूवी बनाने के क्रम में मुझे मेरे अंदर का बिहारी दिखने लगा।

कौन हैं यशपाल शर्मा

इनका जन्म हरियाणा के हिसार के मध्यम वर्ग के परिवार में हुआ था। इनके पिता प्रेमचन्द्र शर्मा हरियाणा के पीडबल्यूडी विभाग में काम करते थे। इन्हें बचपन से ही अभिनय करने में रुचि थी और वे हर बार रामलीला में सक्रिय रूप से भाग लेते थे। इन्होंने 1994 में नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से एक्टिंग में स्नातक की उपाधि प्राप्त की और अपनी बॉलीवुड जिन्दगी की शुरुआत की। इन्होंने लगान (2001), गंगाजल (2003), अब तक छप्पन (2004), अपहरण (2005), सिंह इज़ किंग (2008), आरक्षण (2011) और राउडी राठौड़ (2012) जैसी फिल्मों में काम किया। फिल्मों के अलावा यशपाल शर्मा, टीवी के धारावाहिकों मेंभी काम किये हैं। इन्हें हरियाणवी फिल्म “पगड़ी द ऑनर” के लिए 62वाँ राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी मिल चुका है।